शिक्षक दिवस 2020 | TEACHER’S DAY 2020 : महत्व, भाषण, बधाई सन्देश, श्लोक, शायरी

0

शिक्षक दिवस 2020 : शिक्षक दिवस शिक्षकों की सराहना के लिए एक विशेष दिन है और किसी विशेष क्षेत्र या समुदाय में उनके द्वारा किये गए योगदान के लिए सम्मानित करने के लिए मनाया जाता है। शिक्षकों को अपने छात्रों के साथ एक बहुत ही विशेष बंधन साझा करने के लिए जाना जाता है क्योंकि वे छात्रों अपने जीवन की पुस्तकों और अनुभवों के माध्यम से सिखाते हैं। वे न केवल पेशेवर जीवन में, बल्कि व्यक्तिगत जीवन के लिए भी अपने छात्रों को तैयार करते हैं। हमारे समाज में शिक्षकों को उच्च स्थान दिया जाता है। यह दिन अपने शिक्षकों को सम्मान देने और उनका आभार व्यक्त करने के लिए मनाया जाता है।

शिक्षक दिवस 2020 | TEACHER’S DAY 2020

19 वीं शताब्दी के दौरान कई देशों में शिक्षक दिवस मनाने का विचार आया। ज्यादातर मामलों में, वे एक स्थानीय शिक्षक या शिक्षा में एक महत्वपूर्ण उपलब्धि का जश्न मनाते हैं। यह प्राथमिक कारण है कि देश इस दिन को कई अन्य अंतर्राष्ट्रीय दिनों के विपरीत अलग-अलग तिथियों पर मनाते हैं। उदाहरण के लिए, अर्जेंटीना डोमिंगो फॉस्टिनो सरमिनियो की मृत्यु के याद में 11 सितम्बर को 1915 ये इस दिन को शिक्षक दिवस के रूप में मनाता है जबकि भारत में इस दिन को प्रत्येक वर्ष 5 सितम्बर को मनाया जाता है क्योकि इस दिन भारत के दूसरे राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म हुआ था। इनके जन्मदिन को सेलिब्रेट करने के लिए 1962 से हम प्रत्येक वर्ष 5 सितम्बर को शिक्षक दिवस के रूप में मानते है।

शिक्षक दिवस 2020 पर भाषण

शिक्षक दिवस के अवसर पर स्कूलों में सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। इस दिन छात्र उन्हें सम्मान देने के लिए कार्ड और फूल देते हैं। हालाँकि इस वर्ष स्कूलों और कॉलेजों में शिक्षक दिवस को COVID-19 स्थिति के कारण नहीं मनाया जाएगा। कोरोनावायरस महामारी के मद्देनजर पिछले कुछ महीनों से सभी स्कूल और कॉलेज बंद हैं। ऑनलाइन कक्षाओं के साथ छात्र और शिक्षक अब शिक्षक दिवस 2020 को मनाएंगे। अपनी इच्छाओं और कृतज्ञता को व्यक्त करने के लिए हर साल छात्र अपने शिक्षकों के लिए भाषण तैयार करते हैं। इस वर्ष भी छात्र घर पर एक भाषण तैयार कर सकते हैं। जिसे आभासी समाहरो के दौरान ऑनलाइन दे सकते है। भाषण को आप हमारे इस पेज से देख सकते है और तैयार कर सकते है।

हमारे प्रिय लॉकडाउन मेंटर

सभी अध्यापकों को सुबह प्रभात!

जैसा की हम सब जानते है, हम यहाँ पर शिक्षक दिवस मनाने के लिए इकठ्ठा हुए है। सबसे पहले मैं अपने शिक्षकों को धन्यवाद देना चाहता हूँ जिन्होंने मुझे शिक्षक दिवस के अवसर पर अपने विचार व्यक्त करने का अवसर प्रदान किया। इस वर्ष सभी शिक्षकों को ऑनलाइन माध्यम से धन्यवाद देने का अवसर मिला है जो हमें ऑनलाइन पढ़ाने के लिए बहुत मेहनत कर रहे हैं और शिक्षा को अगले स्तर पर ले जा रहे है इस वर्ष हम कठिन समय से गुजर रहे है जिसका असर शिक्षा पर भी देखने को मिला है लेकिन हमारे शिक्षक निश्चित रूप से आशा की किरण हैं।

हमारा मार्गदर्शन करने से लेकर हमें प्रेरित करने तक, इस साल दुनिया भर में शिक्षकों के लिए हमारा सम्मान काफी बढ़ा है। हम जानते हैं कि यह हम में से हर एक के लिए चुनौतीपूर्ण रहा है लेकिन शिक्षक हमारे लॉकडाउन संरक्षक रहे हैं। उन्होंने हमें पूरा समर्थन दिया है और ऑनलाइन कक्षाओं और परीक्षणों से निपटने में हमारी मदद की है।

अंत में, मैं अपने पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की पंक्ति के द्वारा अपना भाषण समाप्त करना चाहूंगा, “शिक्षा का उद्देश्य कौशल और विशेषज्ञता के साथ अच्छे मानव बनाना है। प्रबुद्ध मानव शिक्षकों द्वारा बनाया जा सकता है।”

इन कठिन समय में, मैं आपके अटूट समर्थन के लिए प्रत्येक छात्रों की ओर से सभी शिक्षकों को धन्यवाद देना चाहता हूं। हमें मार्गदर्शन देने के लिए, हमें प्रेरित करने और आज हम जो हैं, उसे बनाने के लिए धन्यवाद!

शिक्षक दिवस 2020 पर बधाई संदेश

मित्रों जैसा की आप सभी जानते है कि हमारे महान शिक्षक डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन जन्मदिन प्रत्येक वर्ष 5 सितम्बर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाते है यह अवसर अपने प्रिय शिक्षक को मार्गदर्शन के लिए धन्यवाद का है। इसीलिए आज हम आपके साथ अपने शिक्षको को धन्यवाद करने के लिए प्रेरक कथन, कविता व शायरी साझा कर रहे हैं।

शिक्षक दिवस की सुभकामनाये

“मुझे पढ़ना-लिखना सिखाने के लिए धन्यवाद
मुझे सही-गलत की पहचान सिखाने के लिए धन्यवाद
मुझे बड़े सपने देखने और आकाश को चूमने का साहस देने के लिए धन्यवाद
मेरा मित्र, गुरु और प्रकाश बनने के लिए धन्यवाद”

“प्रिय टीचर, मुझे हमेशा सपोर्ट करने और मेरा मार्गदर्शन करने के लिए धन्यवाद. यदि मुझे हमेशा आपका आशीर्वाद मिल पाता तो मैं उसी तरह सफल होता जाता जैसे मैं होता आया हूँ. Have a wonderful Teachers Day”

“डियर मैम,
आपने हमेशा मुझे अपना बेस्ट देने के लिए inspire किया है, आपकी वजह से ही मैंने अपने लक्ष्यों को पूरा करना सीखा है…मुझे एक ही व्यक्ति में गुरु, मित्र, अनुशासन, प्रेम सब कुछ मिल गया है….और वो व्यक्ति आप हैं
Happy Teachers Day from the bottom of my heart”

“माता गुरु हैं, पिता भी गुरु हैं,
विद्यालय के अध्यापक भी गुरु है
जिससे भी कुछ सिखा हैं हमने,
हमारे लिए हर वो शख्स गुरु हैं
Happy Teachers Day to all”

“आज टीचर्स डे के दिन हम आपसे बताना चाहते हैं कि आप जिस तरह से हमें पढ़ाते हैं…
हमारा ध्यान रखते हैं…
हमें प्यार करते हैं…
वो आपको दुनिया का बेस्ट टीचर बनाता है
हैप्पी टीचर्स डे”

“जो बनाए हमें इंसान
और दे सही-गलत की पहचान
देश के उन निर्माताओं को
हम करते हैं शत-शत प्रणाम!
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं”

“साक्षर हमें बनाते हैं
जीवन क्या है समझाते हैं
जब गिरते हैं हम हार कर तो साहस वही बढाते हैं
ऐसे महान व्यक्ति ही तो शिक्षक – गुरु कहलाते हैं
इस शिक्षक दिवस पर सभी गुरुजनों को कोटि-कोटि प्रणाम”

“दिया ज्ञान का भण्डार हमें
किया भविष्य के लिए तैयार हमें
हैं आभारी उन गुरुओं के हम
जो किया कृतज्ञ अपार हमें
मेरे जीवन में आने वाले हर एक शिक्षक को शत-शत नमन”

“माता देती है जीवन पिता देते हैं सुरक्षा
पर शिक्षक सिखाता है जीना; जीवन एक सच्चा
शिक्षक दिवस की हार्दिक बधाई!”

“जीवन में कभी हार न मानना
संघर्षों से कभी न भागना
मुसीबतों का करना डट कर सामना
हो कुछ भी सच्चाई के मार्ग पर चलना
ये आप ही तो हमें सिखाते हैं
इसलिए शिक्षक कहलाते हैं”

शिक्षक दिवस संस्कृत श्लोक (हिंदी मीनिंग के साथ)

गुरुर्ब्रह्मा ग्रुरुर्विष्णुः गुरुर्देवो महेश्वरः ।
गुरुः साक्षात् परं ब्रह्म तस्मै श्री गुरवे नमः ॥

अर्थ: गुरु ही ब्रह्मा हैं, गुरु ही विष्णु हैं, गुरु ही शंकर है; गुरु ही साक्षात परमब्रह्म हैं; ऐसे गुरु का मैं नमन करता हूँ।

पन्चाग्न्यो मनुष्येण परिचर्या: प्रयत्नत: ।
पिता माताग्निरात्मा च गुरुश्च भरतर्षभ।।

अर्थ: भरतश्रेष्ठ ! पिता, माता अग्नि,आत्मा और गुरु – मनुष्य को इन पांच अग्नियों की बड़े यत्न से सेवा करनी चाहिए।

गुरू गोविंद दोउ खड़े, काके लागू पाव, बलिहारी गुरू आपने, गोविंद दियो बताये

अर्थ: गुरु और गोविंद दोनों खड़े, मन में दुविधा है कि किसके पैर लगूँ तब गोविन्द ने बताया गुरु के पैर लगो।

देवो रुष्टे गुरुस्त्राता गुरो रुष्टे न कश्चन:।
गुरुस्त्राता गुरुस्त्राता गुरुस्त्राता न संशयः।।

अर्थ: भाग्य रूठ जाए तो गुरु रक्षा करता है, गुरु रूठ जाए तो कोई नहीं होता। गुरु ही रक्षक है, गुरु ही रक्षक है, गुरु ही रक्षक है, इसमें कोई संदेह नहीं।

शिक्षक दिवस पर शायरी

“गुरु की उर्जा सूर्य-सी, अम्बर-सा विस्तार,
गुरु की गरिमा से बड़ा, नहीं कहीं आकार।
गुरु का सद्सान्निध्य ही,जग में हैं उपहार,
प्रस्तर को क्षण-क्षण गढ़े, मूरत हो तैयार।”

“गुमनामी के अंधेरे में था, पहचान बना दिया,
दुनिया के गम से मुझे, अनजान बना दिया,
उनकी ऐसी कृपा हुई,
गुरु ने मुझे एक अच्छा, इंसान बना दिया”

“आपसे ही सीखा आपसे ही जाना
आप को ही हमने गुरु है माना
न होते आप तो हम आज क्या होते?
बेमकसद ज़िन्दगी यूँही गुमनामी में बिता रहे होते!”

“शिक्षक हमें शिक्षा दो, जीवन राह दो
हारे को हरिनाम दो, डूबते को सहारा दो
जब भी मुश्किल आये, ज्ञान गंगा दो
हे गुरुदेव हमें जीवन जीने की राह दो।”

 “गुरु तेरे उपकार का
कैसे चुकाऊं मोल
होवे है कीमत हीरे-मोती की
पर गुरु होवे है अनमोल”

“क्या दूँ गुरु-दक्षिणा
मन ही मन मैं सोचूं
चुका न पाऊं ऋण मैं तेरा
अगर जीवन भी अपना दे दूँ”

“आपने बनाया है मुझे इस योग्य की प्राप्त करूं मैं अपना लक्ष्य दिया है
हर समय आपने सहारा जब भी लगा मुझे, कि मैं हारा!
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं!!”

“जीवन की हर मुश्किल में
समाधान दिखाते हैं आप
नहीं सूझता जब कुछ
तब याद आते हैं आप
धन्य हो गया जीवन मेरा
बन गए मेरे गुरु जो आप”

“गुरु का स्थान सबसे ऊँचा,
गुरु बिन कोई ना दूजा
गुरु करे सबकी नैया पार,
गुरु की महिमा सबसे अपार”

“दिया ज्ञान का भण्डार मुझे
किया भविष्य के लिए तैयार मुझे
जो किया आपने उस उपकार के लिए
नहीं शब्द मेरे पास आभार के लिए”

“सही क्या है ? गलत क्या है ? ये सबक पढ़ाते हैं आप,
झूठ क्या है ? सच क्या है ? ये बात समझाते हैं आप,
जब सूझता नहीं कुछ भी ,राहों को सरल बनाते हैं आप।”

“तीन लोक नवखण्ड में गुरु से बड़ा ना कोय,
करता करे न करी सके गुरु करे सो होय.
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं!!”

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें