15 अगस्त पर भाषण 2020 | Independence Day Speech 2020

0
15 अगस्त पर भाषण 2020

15 अगस्त पर भाषण 2020 : हर साल की तरह इस बार भी हम सब 15 अगस्त यानि की स्वंत्रता दिवस मानाने जा रहे है। इस बार हम लोग 74वां स्वतंत्रता दिवस मनाएंगे। स्वतंत्रता दिवस का अर्थ है आजादी का दिन। मतलब जिस दिन भारत को हमें और हम सभी देश वासियों को अंग्रेज़ो की गुलामी से आजादी मिली थी। हमारा देश 15 अगस्त 1947 को अंग्रेज़ो की गुलामी आज़ाद हुआ था। इस दिन से ही हम सब 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस रूप में बड़े हर्षोउल्लास के साथ धूम धाम से मनाते है।

स्वतंत्रता दिवस देश के प्रत्येक कोने में मनाया जाता है। स्वतंत्रता दिवस को हम सब एक पर्व के जैसे मनाते है। हमारे देश के प्रमुख संस्थान जैसे- स्कूल, कॉलेज, दफ्तर आदि में मनाते है तथा 15 अगस्त पर भाषण  भी दिए जाते है लेकिन वर्ष कोरोना महामारी के कारण स्कूल, कॉलेज, दफ्तर इत्यादि बंद है जिसके कारण 15 अगस्त पर स्वतंत्रता दिवस का आयोजन वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से किया जा सकता है। अतः आप हमारे इस आर्टिकल से 15 अगस्त पर भाषण हिंदी में यहाँ से देख सकते हैं।

15 अगस्त पर भाषण 2020 | Independence Day Speech 2020

प्रत्येक वर्ष भारत के आदरणीय प्रधानमंत्री जी दिल्ली के लालकिला से झण्डा फहराहा के इस दिन का शुभारम्भ करते है। साथ ही साथ अपने भाषण से देश वासियों को सम्बोधित करते है। दिन के महत्व के रूप में, हम भारतीय इस दिन को तिरंगा झंडा फहराकर मनाते हैं। इस दिन पूरे देश को रंग-बिरंगे झंडों और बैनरों से सजाया जाता है। इस दिन के अवसर को और अधिक रोचक बनाने के लिए कई तरह की झाकियां निकाली जाती है। और फिर सबसे अच्छी झांकी को पुरस्कृत किया जाता है। देश के लोग टेलीविज़न के माध्यम से स्वतंत्रता दिवस की परेड, भाषणों और सभी समारोहों की लाइव स्ट्रीमिंग देख सकते हैं।

इस स्वतंत्रता का श्रेय हमारे महान नेता पंडित जवाहर लाल नेहरू को जाता है। उन्होंने कभी लोगों के अधिकारों से समझौता नहीं किया। उन्होंने प्रत्येक और सब कुछ का त्याग किया और स्वतंत्रता के कारण का समर्थन किया।

और यह स्वतंत्रता हमारे अन्य नेताओं बाल गंगाधर तिलक, लाला लाजपत राय , भगत सिंह, खुदी राम बोस, और चंद्र शेखर आज़ाद के बलिदानों के कारण है।

आदरणीय मित्रो। ब्रिटिश भारत में, हम सभी जंजीरों में थे। हमारे अधिकारों से समझौता किया गया। हमें घुटन महसूस हुई। हमारी सामाजिक, राजनीतिक और आर्थिक स्थिति बहुत खराब थी। और अंत में, यह भारतीयों के लिए विदेशी ताकतों की गुलामी में रहने का सम्मान नहीं था।

कोई शक नहीं, हम एक स्वतंत्र भूमि हैं। लेकिन यह मुक्त भूमि समस्याओं के एक मेजबान से घिरा हुआ है। हम आज कई मुद्दों का सामना कर रहे हैं। अतिपिछड़ों के मुद्दे की तरह, युवा बेरोजगारी, गरीबी, ग्रामीण क्षेत्रों का अविकसितता और बहुत कुछ।

इन सभी समस्याओं के अलावा, हमारे देश में कई अच्छी चीजें हैं। हम एक परमाणु शक्ति संपन्न देश हैं। हमारे पास एक बड़ी और बहादुर सेना है। हमारी सीमाएं सुरक्षित हैं।

और हमारे दुश्मन हमसे डरते हैं। हम स्वतंत्र और खुशहाल लोगों के सबसे बड़े लोकतंत्र हैं। हम राजनीतिक रूप से शक्तिशाली, आर्थिक रूप से मजबूत और सैन्य रूप से उन्नत हैं।

युवा होने के नाते, हम कल के लिए अपने राष्ट्र का भविष्य हैं। हमें समस्याओं को देखने और बेहतर समाधान खोजने की आवश्यकता है।

हमें एकजुट होना होगा। जैसा कि हमारे महान नेता महात्मा गांधी ने कहा, “भविष्य इस बात पर निर्भर करता है कि हम वर्तमान में क्या करते हैं।” इसलिए, हमें एक बेहतर कल के लिए अपने आज का उपयोग करना होगा।

प्रिय दोस्तों, एकता में ताकत है। इसलिए हमें एकजुट होना होगा। हमें आज यह वचन देना होगा कि हम अपनी जमीन को कभी नुकसान नहीं होने देंगे।

हमें अपने देश को दुनिया में शक्तिशाली और सम्मानजनक बनाने के लिए हर संभव प्रयास करना होगा। एकता में सुधार, परिश्रम पर चर्चा की और हमारे हर दोस्त और दुश्मनों को समान रूप से बताया। हम दोस्तों के साथ दोस्त हैं और हम दुश्मनों के साथ कठोर हैं।

“जय हिंद, जय भारत”

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें